सपा को करारा झटका,.माता प्रसाद के करीबी सुधीर शर्मा ने थामा शिवपाल का दामन

January 21, 2019 2:04 PM0 commentsViews: 1789
Share news

अमित श्रीवास्तव

 

पीएसपी में शामिल होने के बाद पार्टी अध्यक्ष शिवपाल यादव के साथ सुधीर राय शर्मा

 मिश्रौलिया, सिद्धार्थनगर। पूर्व विधानसभा अध्यक्ष माता प्रसाद पांडेय के बेहद करीबी और दशकों से याथ रहे सपा नेता सुधीर शर्मा ने समाजवादी पार्टी को त्याग कर शिवपाल यादव की प्रगतिशील सोशलिस्ट पार्टी में  शामिल हो गये। शिवपाल यादव के इस कदम को सिद्धार्थनगर सपा के लिए झटका माना जा रहा है। उनका महत्व समझते हुए पार्टी ने उन्हें महासचिव का पद भी दे दिया है।

सुधीर शर्मा  जिला  कोऑपरेटिव बैंक सिद्धार्थनगर के चेयरमैन हैं। इटवा क्षेत्र के बेलवा गांव निवासी श्री शर्मा को फिलहाल चौतरफा बधाइयों मिल रहीं हैं। पीएसपी नेता व पूर्व मंत्री कमाल यूसुफ मलिक, जिलाध्यक्ष सुखराज यादव, पीएसपी नेता परशुराम यादव, काजी नियामतुल्लाह प्रवक्ता -इरफान मलिक, , यूथ ब्रिगेड प्रदेश महा सचिव प्रतीक राय शर्मा, जिला उपाध्यक्ष देव प्रकाश उपाध्याय, भोला यादव, सिंह नारायण यादव, मास्टर कलीमुल्लाह, अतहर हुसैन,मेराज मुस्तफा, वसीम परवेज़, कलीमुल्लाह उर्फ झापस, मराफत हुसैन, रणजीत यादव, गोपाल प्रसाद, प्रमेन्द्र कुमार मौर्या आदि ने उन्हें बधाई देते हुए पार्टी की बड़ी सफलता बताई है।

बन सकते हैं लोकसभा उम्मीदवार

सुधीर राय शर्मा के शिवपाल यादव की प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (पीएसपी) में जाना सपा के लिए बड़ा झटका बताया जा रहा है। बताया जाता है कि सुधीर का इटवा, डुमरियागंज, बांसी विधान सभा क्षेत्रों में काफी प्रभाव है। इसका फायदा निश्चित ही पीएसपी को मिलेगा। पीएसपी के आंतरिक सूत्रों का कहना है कि सुधीर राय शर्मा के रूप में पीएसपी को लोकसभा के लिए अच्छे उम्मीदवार साबित हो सकते हैं।

याद रहे कि कपिलवस्तु पोस्ट ने एक माह पहले ही लिखा था किनिकट भव्ष्‍िाय में सपा से तीन प्रभावशाली लोग शिवपाल की पार्टी में आने वाले हैं। जिसमें एक इटवा क्षेत्र से हैं। एक बार फिर बता दें कि चुनाव पूर्व सपा छोड़ कर दो अन्य नेता पार्टी में आ सकते हैं। इसके लिए पीएसपी के नेता उनसे सम्पर्क बनाये हुए हैं।

 

 

 

 

Leave a Reply