ताल नटवा में आने जाने का कोई रास्ता नहीं, बरसों से मांग कर रहे ग्रमीण

August 10, 2020 4:22 pm0 commentsViews: 160
Share news

अजीत सिंह

सिद्धार्थनगर। विकास खंड उसका बाजार के ग्राम ताल नटवाडीह  के लोगों को आजादी के बाद से ले कर अब तक नही मिल सका आने जाने का रास्ता। यह गांव उसका बाजार विकास खंड के कछार क्षेत्र के अलग अलग दो ग्राम पंचायत तालनटवा, अजिगरा इन दोनों ग्राम पंचायतों का आधा आधा बटा हुआ टोला नटवाताल है। इस गांव में निवास करने वालो की संख्या 300 सौ के करीब है, बाढ़ के दिनों में रास्ता विहीन गांव नटवाडीह के लोगों को काफी मशक्कत झेलनी पड़ती है

खबर के मुताबिक गांव के चारों तरफ से बाढ़ का पानी जमा हो जाता है जिसके वजह से गांव के लोग नावों द्वारा बाजार और अन्य कार्यो को करने के लिए निकलते हैं। मगर शाम होते ही घर वापस हो जाते है। इस गांव में रास्ता नहीं होने से बाढ़ के समय और बाढ़ हट जाने के बाद भी रास्ता विहीन स्थिति बनी रहती है। फलतः  लोगों  को काफी कठिनाइयों को झेलना पड़ता है।

ताल नटवा गांव दो ग्राम पंचायतों का बटा हुआ टोला होने के वजहो से ग्राम प्रधानों द्वारा भी किसी भी प्रकार की कोई पहल आज तक नहीं किया गया। लोग खेतों के मेड़ों से आते जाते हैं। बरसात होने और बाढ आने पर बच्चों के पढ़ाई और अन्य बाहरी कार्यो को करने में लोगों को बहुत मशक्कत झेलनी पड़ती है। गांव के लोगों ने रास्ते की मांग जिलाधिकारी, उप जिला अधिकारी, ब्लाक प्रमुख आदि तमाम लोगों से  किया है।  मगर रास्ते को लेकर  आज तक किसी भी प्रकार की कोई पहल नहीं की गयी। गांव के राधेश्याम, रामकिशुन, प्रेम, दूधनाथ, सीताराम, राम मिलन, आदि लोगों ने ताल नटवा में रास्ते की मांग किया है।

(151)

Leave a Reply


error: Content is protected !!