युवाओं के कैरियर गाइडेंस का काम घर से शुरू होना चाहिए-इरशद खान

October 29, 2018 1:40 pm0 commentsViews: 325
Share news

 

सग़ीर ए ख़ाकसार

डुमरियागंज, सिद्धार्थनगर। ।स्थानीय खैर टेक्निकल सेंटर डुमरियागंज में सम्पन्न हुई तालीमी बेदारी की एक महत्वपूर्ण बैठक में युवाओं के कॅरिअर गाइडेंस और कॉउंसलिंग के बारे में विस्तृत चर्चा की गयी। चचै में कहा गया कि कैरियर गाइडेंस युवाओं के लिए जरूरी है। इसकी शुरूआत कर से ही शुरू हो लानी चाहिए।

तालीमी बेदारी के प्रदेश अध्यक्ष सग़ीर ए खाकसार ने कहा कि छात्र छात्राओं को सही समय पर कॅरिअर गाइडेंस के बारे में जानकारी न मिलने से उनके मानसिक स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है।युवा डिप्रेशन,और तनाव के शिकार हो जाते हैं।यही नहीं कभी कभी वो आत्महत्या तक करने के बारे में भी सोचते हैं।

खाकसार ने कहा कि प्रत्येक कालेज और स्कूलों में कॅरिअर गाइडेन्स सेल बनाये जाने की आवश्यकता है।तालीमी बेदारी युवाओं की इस मनःस्थिति को लेकर बेहद फिक्रमंद है।पिछले वर्ष भी प्रदेश के प्रताप गढ़, गोंडा, बलरामपुर आदि जिलों में कॉउंसलिंग का प्रोग्राम आयोजित किया गया था। खाकसार ने कहा कि डुमरियागंज में भी 24 नवंबर को एक कॅरिअर कॉउंसलिंग का प्रोग्राम तालीमी बेदारी आयोजित करेगी।

अलीगढ़ मुस्लिम विश्विद्यालय से एम फिल और हारको इंडिया कंपनी मुंबई के डायरेक्टर जमील अहमद ने कहा कि तालीमी बेदारी की सोंच, और मंसूबा दोनों क़ाबिले तारीफ है। इंजीनयर इरशाद अहमद खान ने अपने अध्यक्षीय संबोधन में कहा कि कॅरिअर गाइडेन्स युवाओं को बहुत ज़रूरी है। हालांकि इसकी शुरआत फेमली से होनी चाहिये।

उन्होंने कहा कि पेरेंट्स को भी चाहिए कि वो छात्र छात्राओं की मनोस्थिति का विश्लेषण करते हुए उसे उचित सलाह दें। खान ने कहा कि कॅरिअर गाइडेन्स न मिलने से अधिकांश युवा कन्फ्यूज़्ड और स्ट्रेस में रहते हैं।जिन्हें बाहर निकलने की आवश्यकता है।

बैठक में मुख्य रूप से काज़ी फरीद, ज़िया मलिक, मोहम्मद मुर्तजा, जमाल अहमद, शारिक मलिक, मोहम्मद सादिक़, आदि ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम का संचालन पत्रकार जी एच क़ादिर और अध्यक्षता इरशाद अहमद खान ने किया।

 

 

(154)

Leave a Reply


error: Content is protected !!