थाली बेलन बजा कर किया केन्द्र सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

January 10, 2017 5:49 pm0 commentsViews: 248
Share news

कांग्रेस महिला इकाई द्वारा पार्टी कार्यालय पर नोटबंदी के विरोध में किया हल्ला बोल

 प्रदर्शन के दौरान प्रधानमंत्री व भाजपा के विरोध में लगाये गये नारे

अजीत सिंह

misra
सिद्धार्थनगर। भाजपा द्वारा देश में नोटबन्दी के फैसले के बाद हुई मौतों, किसानों की परेशानियां, मजदूरों और कारीगरों गरीबों की रोजी रोटी चले जाने के विरोध में  कांग्रेस पार्टी कार्यालय पर कांग्रेस जिला पर्यवेक्षक मो. बिलाल के निर्देशन में महिला कांग्रेस कमेटी द्वारा खाली थाली खाली बेलन, खाली बटुआ हमारा है, के स्लोगन के साथ महिला कार्यकर्ताओं द्वारा थाली बजा कर मोदी व भाजपा के विरूद्ध प्रदर्शन किया गया।
सोमवार को कांग्रेस शीर्ष नेतृत्व के आह्वान पर देश भर में महिला कांग्रेस द्वारा केंद्र सरकार द्वारा नोटबंदी के विरोध प्रदर्शन के क्रम में जिला कांग्रेस कार्यालय पर महिला कांग्रेस अध्यक्ष श्रीमती रंजना मिश्रा व किरन शुक्ला के नेतृत्व में पार्टी की महिला कार्यकर्ताओं द्वारा थाली बेलन को बजाते हुए बजाते व प्रधानमंत्री सहित भाजपा के विरोध में नारों के साथ प्रदर्शन किया गया।

इस दौरान जिला पर्यवेक्षक मो. बिलाल ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री जो अपने आपको खुद ईमानदारी का तमगा पहने हुए हैं उन्हीं से हम विभिन्न घटनाओ के बारे में जांच कराने की मांग करते है। आज देश में नोटबन्दी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है। कितने लोग बेरोजगार होकर सड़कों पर आ गये और कितने आसमयिक मौत के शिकार हो गये हैं। प्रदर्शन के उपरांत पार्टी पदाधिकारी द्वारा जिलाधिकारी के माध्यम से प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन सौंपा गया।

इस अवसर पर कांग्रेस महिला जिला उपाध्यक्ष कलीमुन्निशा, रामरती, पुष्पा, मुखारकुन्निशा, इमरावती, इन्द्रावती, कालिन्दी, सालहा खातून, नीलम मिश्रा, कमरून्निशा, तबारकुन, सुभावती, अनीता, फुलेसरा, रीता, फूलमती, दुर्गावती उर्मिला, सुराती, सूर्यमती, सुमित्रा, प्रतिभा, पूनम तीरथा देवी, रैमुन्निशा, कांग्रेस जिला उपाध्यक्ष मंगेश दूबे, कैलाश पंक्षी, मोहरत राव, इनामुर्रहमान, अकरम अली सिद्दीकी, रामानन्द यादव, विजय मुकेश, आकाश, जितेन्द्र सहित दर्जनों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।
———
इंसेट-
——
सिद्धार्थनगर। कंेद्र सरकार द्वारा नोटबंदी के विरोध में आयोजित कांग्रेस प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस महिला जिलाध्यक्ष श्रीमती रंजना मिश्रा व श्रीमती किरन शुक्ला ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा चुनाव में जनता से कालाधन वापस लाने के किये गये वादों पर खरा न उतरने के कारण नोटबंदी जैसे तुगलकी फरमान जारी किये गये। भाजपा द्वारा देश का कालाधन विदेशों से तो नहीं लाया जा सका परंतु नोटबंदी के माध्यम से देश के गरीबों व असहायों द्वारा पाई-पाई कर जुटायी गयी रकम जरूर बैंकों में जमा करा कर उन्हें दाने-दाने को मोहताज बना दिया गया। नोटबंदी का सबसे अधिक प्रभाव महिलाओं पर पड़ा है। क्योंकि महिलाओं के जिम्मे ही घर खर्च चलाने की जिम्मेदारी होती है। नोटबंदी के चलते महिलाओं को कितनी परेशानियों का सामना करना पड़ा है। वह प्रधानमंत्री नहीं समझ पायेंगे।

(6)

Leave a Reply


error: Content is protected !!