डुमरियागंजः सपा–कांग्रेस गठबंधन से किसके माथे सजेगा टिकट का ताज?

January 31, 2017 1:30 PM0 commentsViews: 1753
Share news

नजीर मलिक

333333

 

सिद्धार्थनगर। घड़ी की सूइयां उल्टी दिशा में घूमने लगी हैं। नामांकन प्रक्रिया में अब 48 घंटे से कम वक्त रह गया है, लिहाजा 24 घंटो से भीतर डुमरियागंज से गठबंधन की तरफ से टिकट का एलान कर दिया जायेगा। यहां के टिकट में फिलहाल परिवर्तन के आसार नहीं हैं। विधायक कमाल यूसुफ की उम्मीदें अधिक जीवंत हैं।

कलिवस्तु पोस्ट को मिली जानकारी के अनुसार गत दिनों यीएम अखिलेश से लखनऊ एक सपा नेता ने मुलाकात की। अखिलेश ने कहा कि डुमरियांगज माइनारिटी की सीट है। जाइये प्रचार करिए। मुख्यमंत्री ने हालांकि किसी का नाम नहीं लिया, लेकिन संदेश साफ है कि अगर सपा यहां उम्मीदवार देती है, तो वह कमाल यूसफ ही होंगे।

दरअसल अखिलेश यादव को यह मैसेज कई सूत्रों से मिल चुका है कि बस्ती मंडल में किसी मुस्लिम को उम्मीदवार न बनाये जाने से इसका असर मुसलमान वोटरों पर पड़ सकता है। यही वह तथ्य है जो अब अखिलेश को पुराना उम्मीदवार बहाल रखने को मजबूर कर रहा है। सपा के एक बड़े नेता ने भी सीएम से कहा है कि इससे जिले की कई सीटों पर बसपा का प्रभाव बढ़ जायेगा।

रही पीस पार्टी और कांग्रेस के तालमेल की बात तो वह वार्ता समाप्त हो चुकी है। कांग्रेस में कोई मुस्लिम नेता मजबूत दिखता ही नहीं। इसलिए बात घूम फिर कर कमाल यूसुफ पर आ टिकती है। पार्टी आला कमान आखिर क्या निर्णय लेगा,यह तो बाद की बात है, फिलहाल लखनऊ के सू़त्र और हालात तो कमाल यूसुफ की तरफ इशारा कर रहे हैं।

Leave a Reply