निष्ठुर मां बाप मंदिर में फेंक गये दो मासूम बच्चियां, गांव में तरह तरह की चर्चा

April 29, 2018 1:35 pm0 commentsViews: 514
Share news

दानिश फ़राज़

मंदिर परिसर में पाई गईं लावारिस बच्चियां

शोहरतगढ़, सिद्धार्थ नगर।आज सुबह करीब 8 बजे चिल्हिया पल्टादवी मार्ग पर जंगल के किनारे समय माता स्थान पर दो लावारिस बच्चियों के मिलने का मामला प्रकाश में आया है । दोनों अबोध बच्चियां टेक्नार ग्राम वासियों के सुपुर्द हैं। दुधमुहीं बच्चियों के बारे में कुछ पता नहीं चल पाया रहर है। आखिर कौन मां बाप हैं, जिनका कलेजा बच्चियों को फेंकते वक्त नहीं कांपा। इस घटना को लेकर गांव में जरह जरह की चर्चाएं जारी हैं।

जानकारी के मुताबिक चिल्हिया पल्टादेवी मार्ग पर जंगल के किनारे भट्ठे के पास एक समय माता स्थान है। जिसकी देखभाल ग्राम टेक्नार के हैं। आज सुबह मन्दिर पर कुछ लोग पूजा करने आये तो देखा कि दो बच्चियां मन्दिर परिसर में पड़ी रो रही हैं। इनमें  एक कि उम्र पांच माह और दूसरी की उम्र एक बरस बताई जा रही है । दोनो भूख प्यास से व्याकुल थीं और दोनों बच्चियों के चेहरे मच्छरों के काटने से लाल और सूजे हुए है। फिलहाल दोनो को टेकनार गांव के लोग अपनी ज़िम्मेदारी मानते हुए पाल पोस रहे हैं।

सवाल है किन निष्ठुर मां बाप हैं जो इन बच्चियों को यहां छोड़ने को मजबूर हुए। बच्चियों के पहनावे को देख कर लगता है कि वह किसी खाते पीते परिवार की हैं, इस लिए उनको वहां फेंकने का करण गरीबो तो नहीं हो सकती। मुमकिन है कि पारिवारिक विवाद के चलते मां बाप में से काई उन्हें यहां फेंक गया हो।

फिलहाल समाचार लि’खे जाने तक एसओ चिल्हिया भी भी मौके पर पहुंचे और बच्चों को ग्रामीणों से लेकर चाइल्ड हेल्प लाइन को सौंप दिया है। पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी हुई है।

(313)

Leave a Reply


error: Content is protected !!