बेखौफ चल रहे बिना मान्यता वाले स्कूल, विभाग नहीं लगा पा रहा अंकुश

September 15, 2015 3:54 pm0 commentsViews: 88
Share news

अब्दुल हमीद खान

स्कूली बच्चे
शासन ने बिना मान्यता प्राप्त विद्यालयों के प्रति सख्ती से निपटने के लिए शिक्षा विभाग को कड़ा निर्देश दे रखा है, वावजूद इसके इटवा तहसील में बिना मान्यता वाले स्कूल संचालकों में कोई खौफ नजर नहीं आ रहा है।

हैरानी की बात यह है कि बिना मान्यता वाले स्कूलों में पढ़ रहे अधिकांश बच्चों का वास्तविक नामांकन किसी अन्य विद्यालय में होता है। ऐसे स्कूल कुछ मान्यता प्राप्त विद्यालयों के संरक्षण चलते हैं और उन्हें बाकायदा इसके लिए हर माह रकम देते हैं। इस बात की जानकारी बच्चों को तब हो पाती है, जब उन्हें परीक्षा हेतु अन्य विद्यालय से जारी प्रवेश पत्र मिलता है।

क्षेत्र के इटवा कस्बा से लेकर करहिया, महादेव, संग्रामपुर, सेमरी, पकरैला, कठेला, बढ़या, पहाड़ापुर, मिठौआ ,मस्जिदिया आदि चौराहों पर बिना मान्यता वाले विद्यालयों की भरमार है। इसी क्रम में इटवा कस्बे में कई ऐसे विद्यालय हैं, जिसकीे मान्यता आठवीं व हाई स्कूल है लेकिन विभाग के जिम्मेदारों की मदद से मोटी रकम लेकर इंटर तक क्लास चला रहे हैं।

बडे़ बड़े बोर्ड, पोस्टर व स्कूल वाहन तथा आधुनिक शिक्षा के नाम पर अभिभावकों की जेब ढीली कर मोटी रकम वसूल कर रहे हैं। लेकिन विभाग के जिम्मेदार सब कुछ जानकर भी अंजान बने हुए हैं। विभाग के इस नाकामी के पीछे सुविधा शुल्क की बात की चर्चांए हैं।

(2)

Leave a Reply


error: Content is protected !!