यूपी सरकार फैला रही भर्ती भ्रष्टाचार, नौजवान बदलें यह निकम्मी सरकार- देवेन्द्र सिंह

April 13, 2016 7:28 PM0 commentsViews: 336
Share news

संजीव श्रीवास्तव

devo

सिद्धार्थनगर। गोरखपुर- फैजाबाद खंड स्नातक निर्वाचन क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी प्रत्याशी और पूर्व एमएलसी देवेन्द्र प्रताप सिंह ने कहा है कि विधान परिषद में मूक बाधिर नहीं, बल्कि जन-आंदोलनों से निकला व्यक्तित्व जाना चाहिए। प्रदेश सरकार भर्ती के नाम पर भ्रष्टाचार फैलाये हुए है। इस चुनाव में प्रतिभाशाली नौजवान इस निकम्मी सरकार को बदल देंगे।

देवेन्द्र सिंह बुधवार को जनपद मुख्यालय स्थित पीडब्लूडी रेस्ट हाउस में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अखिलेश सरकार ने भर्ती भ्रष्टाचार को अंजाम देने के लिए एक मजारिया हिस्ट्रीशीटर को प्रदेश लोक सेवा आयोग का अध्यक्ष बनाया। जिसने भ्रष्टाचार के नये कीर्तिंमान स्थापित किया।

वर्ष 2012 में पीसीएस के 86 पदों में सरकार ने इटावा परिश्रेत्र के 54 सजातीय बंधुओं को भ्रष्ट तरीके से चयनित कराया। गोरखपुर, बस्ती, देवी पाटन और फैजाबाद मंडल का एक भी अभ्यर्थी चयनित नहीं हो पाया। क्या यहां प्रतिभा की कमी है ? इस सवाल का उत्तर विधान परिषद चुनाव में इन मंडलों के युवा जरुर मांगेंगे।

सिंह ने कहा कि इस स्नातक क्षेत्र में 17 जनपद आते हैं। अभी तक उन्होंने 14 जनपदों का भ्रमण किया। इन स्थानों के मतदाताओं के मन में उन्हें लेकर कोई संदेह नहीं है। उन्होंने बताया कि बुधवार को सिद्धार्थनगर में मूल्याकंन केन्द्रों एवं बार के सदस्यों से मुलाकात कर उनका समर्थन मांगा। इन दोनों स्थानों पर उपस्थित लोगों ने उन्हें जिताने का संकल्प लिया है। उन्होंने कहा कि उनके मुकाबले में कोई नहीं लड़ रहा है।

Leave a Reply