किसानों को नहीं मिल रहा डिमांस्टट्रेशन स्कीम का फायदा, डीएम से फरियाद, कालाबाजार में बिक रहे बीज

November 28, 2015 2:49 PM0 commentsViews: 116
Share news

हमीद खान

सन्नाटे में डूबा उपसंभागीय कृशि प्रसार अधिरी कार्यालय

सन्नाटे में डूबा उप संभागीय कृषि प्रसार अधिकारी कार्यालय व राजकीय बीज भंडार

इटवा,सिद्धार्थनगर। शासन द्वारा किसानों को विभिन्न योजनाओं का लाभ पहुंचाने के लिए भले ही नित नये प्रयोग किये जा रहे हों, लेकिन विभाग के कतिपय जिम्मेदारों की उदासीनता के चलते क्षेत्र के विभिन्न किसानों को को सब्सिडी आदि का लाभ नहीं मिल पा रहा है।

बताया जाता है कि किसानों की मदद के लिए डिमांस्ट्रेशन स्कीम बनाई है, जिसके तहत सब्सिडी देकर किसानों को उन्नत खेती के लिए बीज आदि दिया जाना है। लेकिन विभाग की मिलीभगत से इसे काला बाजार में बेचा जा रहा है। किसानों को इसका फायदा नहीं मिल रहा है।

ग्राम सिसवां बुजर्ग के प्रदीप कुमार,बबलूू चौधरी आदि ने गोदाम इंचार्ज पर तानाशाही का आरोप लगाते हुए जिलाधिकारी को पत्र भेजकर जांच की मांग की है। लिखे पत्र में उल्लेख किया है कि एक तो क्षेत्रीय कृषि कार्यालय द्वारा किसी भी योजना का प्रचार नहीं किया जा रहा है, दूसरे आफिस में पूछने पर इंचार्ज द्वारा योजना का जानकारी नहीं दी जाती है। जिससे क्षेत्रीय किसनो का सब्सिडी वाले बीज व अन्य बस्तुओं का लाभ नहीं मिल पा रहा है।

डिमास्ट्रेशन स्कीम के तरह लक्षित गांव के किसानो को सब्सिडी का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इसी प्रकार कई प्रकार के बीजों तथा अन्य उपकरण का लाभ लोगों को नहीं मिल पा रहा है। हालांकि गोदाम में कई प्रजाति के गेहू के बीज उपलब्ध हैं। बावजूद इसके गोदाम पर सन्नाटा पसरा रहता है।

इस संबंध मे गोदाम इंजार्ज चन्द्रप्रकाश उपाध्याय ने तानाशाही के आरोप को बेबुनियाद बताते हुए कहा कि डिमास्ट्रेशन योजना के तहत किसानों सूचित किया जा चुका है। लेकिन पहले पैसा जमा करने की बात पर किसान ज्यादा रूचि नहीं ले रहे हैं।

Leave a Reply