आरती और इफ्तार एक साथ, बड़हलगंज में विनय शंकर ने रखी साझा तहजीब की बुनियाद

June 23, 2017 4:04 PM0 commentsViews: 497
Share news

एस.पी. श्रीवास्तव

bad11

गोरखपुर। कल शाम चिल्लूपार विधानसभा क्षे़त्र में कौमी एकता की अनूठी मिसाल पेश हुई। बड़हलगंज के समय थान गांव में शाम 6 बजे आरती हुई, तो मगरिब की अजान पर बगल में रोजा इफ्तार का आयोजन किया गया। दोनों कार्यक्रमों में हर वर्ग के लोग बराबर से शामिल हुए।इस इनाखे आयोजन के रचनाकार रहे क्षेत्रीय विधायक विनय शंकर तिवारी, जिन्होंने बड़हलगंज की गंगा-जमुनी तहजीब के बागीचे में सांझा विरासत की खुश्बू बिखेर दिए।

बड़हलगंज के समय थाना गांव में समय माता मंदिर पर शाम 6 बजे आरती कार्यक्रम हुआ और इसके कुछ देर बाद ही मंदिर के पड़ोस में हाफिज बिसमिल्लाह के घर रोजे की महफिल सजी और अजान की आवाज पर रोजा इफ्तार हुआ। इन दोनों कार्यक्रमों की खास बात यह थी कि उनमें हिंदू और मुसलमान बराबर से शरीक रहे।

दरअसल साझा तहजीब वाले इस कार्यक्रम में शिल्पी खुद बसपा विधायक विनयशंकर ही थे। उन्होंने ही सुझाव दिया कि वर्तमान में इस प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन देश और समाज के  लिए बहुत जरूर है। उन्होंने कहा भी कि जब तक बड़हलगंज में सरयू की धारा रहे, तब तक भाईचारे की की नाव को तैराते रहना होगा।

उन्होंने कहा कि जल्द ही वे क्षेत्र की कई समस्याओें की सूची बना कर उसके  निस्तारण का प्रयास करेंगे। इस अवसर पर देवी शुक्ल, हाफिज बिस्मिल्ला, रविंन्द्र यादव, कुणाल, हितेश आलोक त्रिपाठी युवा नेता, आशीष, झिनकु बाबा, अशफाक, युसूफ, दिवाकर, धनञ्जय पांडेय, सत्यम शुक्ल, रितेश तिवारी आदि की उपस्थिति रही।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Leave a Reply