रहस्यमय मौतः किस मजबूरी के तहत फांसी लगाने पर पर मजबूर हुई मनीषा?

November 23, 2023 12:53 PM0 commentsViews: 589
Share news

ससुराल सहित मायके वाले भी मान रहे कि मनीषा ने खुदकशी की, मगर

खुदकशी का कारण बता पाने में दोनों पक्ष नाकाम. मौत की जांच जरूरी

नजीर मलिक

सिद्धार्थनगर। बाईस साल की मनीषा की दो वर्ष पहले ही शादी हुई थी। बुधवार को अचानक मनीषा ने थित तौर पर फांसी लगा कर खुद को समाप्त कर लिया।  भवानीगंज थाना क्षेत्र के जुड़वनिया गांव में घटी इस घटना से एक सवाल उठता हैकि एक नववधू ने अगर जान दिया है तो उसकी कुछ तो वजह होगी ही। लेकिन इस सवाल  का स्पष्ट जवाब ससूराल पक्ष से नहीं मिल पा रहा है। मनीषा की मौत को संदग्ध बताने वालों की तादाद भी कम नहीं हैं। पुलिस ने लाश को पास्टमार्टम के लिए भेजा जरूर है लेकिन वह भी एक सामान्य हादसा की लाइन पर ही चल रही है। उल्लखनीय है कि मनीषा का शव कमरे में छत के कुंडे से फंदे के सहारे लटका मिला।

बस्ती जनपद के सोनहा थाना क्षेत्र के आलेहकुईयां गांव निवासी राम ललन की पुत्री मनीषा की शादी दो वर्ष पूर्व जनपद सिद्धार्थनगर के भवानीगंज थाना क्षेत्र के जुड़वनिया गांव निवासी परमात्मा प्रसाद के पुत्र विनोद के साथ हुई थी। ससुराल पक्ष के अनुसार है मंगलवार रात में खाना खाने के बाद वह सोई थी। सुबह उठने के बाद काम भी किया, फिर दोपहर को अचानक कमरे में गई। काफी देर तक वह बाहर नहीं आई तो लोगों ने जाकर कमरे में देखा तो कमरे में छत के कुंडे से लगे फंदे के सहारे उसका र्निजीव शव लटका हुआ था।  सुनीता को कोई दुख था, इस बारे में कोई नहीं बता पा रहा है। जबकि कोई आत्महत्या तभी करता है जब वहकिसी बड़े संकट में फंसा हो

तरह तरह की  चर्चा

घटना की जानकारी होते ही आसपास के लोगों की भीड़ मौके पर इकट्ठा हो गई। इसी बीच किसी ने मामले की जानकारी भवानीगंज पुलिस को दी। सूचना पाकर मौके पर पुलिस पहुंच गई। कुछ ही समय बाद घटनास्थल पर सीओ डुमरियागंज सुजीत कुमार राय भी पहुंच गए। घटना से गांव में तरह-तरह की चर्चाएं हैं।  हर आदमी के जेहन में एक ही सवाल है कि अखिर मनीषा के जानदेने के पीछे कौन सी मजबूरी थी। मगर ससुराल वाले इस बारे में कुछ नहीं बता पा रहे।

इस संबंध में इंचार्ज थानाध्यक्ष गेनालाल रमन ने बताया कि मामला संज्ञान में है। विवाहिता के पिता राम लल्लन ने तहरीर देकर सूचना दी है कि उसकी बेटी ने फंदा लगा लिया है। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा रहा है।रिपोर्ट के बाद ही अग्रिम कार्रवाई हो सकेगी। यहा यह भी गौर तलब है कि लड़की के ससुराल पक्ष के बजाये लड़की के पिता ने थाने में तहरीर दी है।

पिता के शिकायती पत्र से लोग हैरान

मृतका के पिता द्धारा पुलिस को दिये गये ने शिकायती पत्र से भी लाग हैरान है। हैरान इसलिए कि सामान्य हालात में यह कार्य ससुराल पक्ष करता है। लड़की का पिता आमतौर पर तहरीर तभी देता है, जब उसे इसमें ससुराल पक्ष की कोई साजिश नजर आती है। लेकिन यहां लड़की के पिता ने तहरीर में केवल यह कहा है कि उसकी बेटी ने खुद फंदे से लटक कर जान दे दी है। शव का पोस्टमार्टम कराया जाए। पिता की ओर से किसी की शिकायत नहीं की गई है। ऐसे में यह सवाल तो उठता है कि मनीषा ने आत्महत्या क्यों की। अगर इस सवाल का खुलासा हो जाये तो मनीषा की मौत से पर्दा उठ सकेगा।

 

 

 

 

Leave a Reply