गोरखपुर ज़िला डूब रहा और सरकार राजनीतिक भजन गा रही है- विनय शंकर

August 21, 2017 9:22 AM0 commentsViews: 917
Share news

अजीत सिंह

गोरखपुर।जिले में हर ओर सैलाबी कहर है। गाँव के गाँव पानी में डूब रहे हैं और सरकार में बैठे लोग राजनितिक भजन में व्यस्त हैं। कहीं कोई राहत कार्य नहीं हो रहा है। जनता की तकलीफों के बीच सत्ताधारी दलों की बेफिक्री उस कहावत की याद दिलाती है कि रोम जल रहा था और नीरो वंशी बजा रहा था।

ये बात चिल्लूपार के विधायक और बसपा नेता विनय शंकर तिवारी ने कही।वो अपने क्षेत्र में बाढ़ पीड़ित गाँवों का दौरा करने के बाद पीड़ितों की दुर्दशा बयान कर रहे थे। उन्होंने बताया कि उनके क्षेत्र सहित गोरखपुर ज़िले के सैकड़ों गाँव बाढ़ की विभीषिका से परेशान हैं औऱ सरकार मूक दर्शक बानी हुई है।

विधायक विनय शंकर ने क्षेत्र के पटना, पौहरिया,जगदीशपुर, मैभरा, पिरहनी आदि गाँवों का दौरा करने के बाद कहा कि इन गाँवों की हालत बेहद नाज़ुक है। तमाम घरों में पानी घुस गया है। गाँव पानी से घिरे हुए हैं फसलें बर्बाद हो गईं हैं। लोग दाने दाने को मुहंताज हैं, लेकिन प्रशासन पीड़ितों की मदद नहीं कर पा रहा है।

विधायक ने बाढ़ पीड़ित गावों में अपने संसाधनों से नकद और अन्य प्रकार मदद दी तथा कहा कि यूपी सरकार बेहद समेदन हीं है। जब मुख्यमंत्री के गृह जनपद में पीड़ित जनता त्राहिमाम कर रही है, तो और जगहोव् की भयानक दुर्दशा को महसूस किया जा सकता है। उन्होंने सर्कार से पीड़ितों के लिए विशेष राहत कायक्रम की मांग भी की।

इस दौरान प्रधान पटना हृदय शंकर सिंह, कमलेश सिंह, प्रमुख प्रतिनिधि बसन्त पासवान, कुणाल, पूर्व सभापति जिला सहकारी रामदरश विद्यार्थी, आलोक त्रिपाठी, भुनेश्वर चौवे, झिनकु बाबा, सत्यराम दुबे, राहुल राय, सौरभ तिवारी, मकसूद, जावेद, रविशंकर सिंह, आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply