जिला पंचायत अध्यक्ष को लेकर सपा में बगावत के सुर, सदर विधायक पार्टी लाइन के खिलाफ, खबर राजधानी पहुंची

December 18, 2015 12:10 am0 commentsViews: 335
Share news

नजीर मलिक

Chunav-Express

 

सिद्धार्थनगर। जिला पंचायत अध्यक्ष पद की उम्मीदवारी की घोषणा के बाद जिले में बगावत के स्वर फूट सकते हैं। इस आशंका से सपा हाई कमान को अवगत करा दिया गया है। पूरे जिले की निगाहें सदर विधायक पर टिकी हैं, जो पार्टी लाइन के खिलाफ जाते दिख रहे हैं। पार्टी आलाकमान हालात पर निगाह जमाए हुए है।

खबर है कि समाजवादी पार्टी द्धारा सिद्धार्थनगर जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए गरीबदास के नाम के एलान की बात कुछ लोगों को नागवार गुजरी है। लिहाजा उन्होंने बगावत को हवा देने का काम शुरू कर दिया है।
खबर है कि सदर विधायक विजय पासवान की पत्नी मंजू पासवान को टिकट नहीं मिलने के बाद सदर विधायक के भाई रामलाल ने जिला पंचायत अध्यक्ष का चुनाव लडने की बात कही है।

उन्होंने कहा है कि उनके साथ दो दर्जन जिला पंचायत सदस्य हैं। वह सपा के सदस्य नहीं हैं। इसलिए उन्हें कोई लड़ने से कैसे रोक सकता हैं। वैसे यह सभी जानते है कि जिला पंचायत सदस्य के लिए सपा प्रत्याशियों की जारी लिस्ट में रामलाल का नाम भी शामिल था। स्वयं उनके विधायक भाई उन्हें सपा प्रत्याशी बता रहे थे।

इसी बीच यह भी खबर आई है कि सदर विधायक विजय पासवान ने भी रामलाल के चुनाव के लिए कई जिला पचायत सदस्यों से सम्पर्क साधा है। यह बात सार्वजनिक हो चुकी है। इस खबर को उनके विरोधियों ने राजधानी तक पहुंचा दिया है।

कतिपय सपाइयों का मानना है कि पत्नी को टिकट नहीं मिलने पर पासवान यदि भाई के लिए लोगों से सम्पर्क कर रहे हैं तो इसमें कुछ भी अस्वाभाविक नहीं है। इसकी पुष्टि उनके करीबी ने भी की है।

सदर विधायक पार्टी लाइन से हट कर रामलाल के लिए लाबिंग क्यों कर रहे हैं, यह जानने के लिए उनसे सम्पर्क किया गया, मगर वार्ता नही हो सकी। हां उनके प्रेस सचिव अब्दुल कलाम सिदृदीकी ने यह जरूर कहा कि विधायक जी को नेता जी यानी मुलायम सिंह ने टिकट पर पुनर्विचार का भरोसा दिया है। इसलिए अगर वह जिला पंचायत सदस्यों से सम्पर्क कर रहे हैं तो इसमें गलत कुछ भी नहीं है।

(5)

Leave a Reply


error: Content is protected !!